HOME2019-05-25T10:35:04+05:30

बच्चों के अधिकार

वे हर दिन क्रूर और अमानवीय उपचार के अधीन है , उन्हें स्कुल जाने का अवसर नही मिल रहा है ,वे सड़कों पर ,घरों में हिंसा के कहि रूपों से पीडित है। वे बच्चे है। […]

March 21st, 2016|

भारतीय लोकतंत्र के सामने मौजूद चुनौतियाँ

लक्ष्मी  नारायण भारत  को दुनिया का सबसे बड़ा  लोकतंत्र माना  जाता है। एशिया में यह सबसे मज़बूत लोकतंत्र भी साबित हुआ है। पन्द्रह महीने के आपातकाल, जो संवैधानिक प्रावधानों के अंतर्गत था, को छोड़ दें […]

March 21st, 2016|

सत्तर पार के संकल्प

*लक्ष्मी नारायण सारा विश्व आज स्वयं को बधाई दे सकता है क्योंकि सबकी शान्ति और समृद्धि के संकल्प के साथ जन्मा, संयुक्त राष्ट्र संघ अपनी 70 वीं वर्षगांठ मनाकर, 71 वें वर्ष में प्रवेश कर गया है। यह एक बहुत नायाब [...]

February 25th, 2016|

Gandhi and Clean India

Dr. Faiza Abbasi Aligarh, 4 October 2015 One of the demographic dividends of the generation of Indians contributing to nation building is that Mahatma Gandhi is imprinted on our psyche. As the familiar hand drawn picture of the simple yet [...]

October 6th, 2015|

Punching Bag Personified

She belongs to the poverty-stricken regions. Her chances of being born depend not on natural selection but on whether her parents want sex-selection. If the school is distant so will be her possibility of attaining education. It is unsafe outside; [...]

September 23rd, 2015|

NEWS

Over a period of time, advocacy and campaigning have come to be the major areas of intervention of the Centre. Advocacy, which is an act of putting problem on the agenda of public sector, conceptualizing a providing a solution to [...]

September 14th, 2015|
Load More Posts